Our website is made possible by displaying online advertisements to our visitors. Please consider supporting us by whitelisting our website.

शकुंतला देवी के निर्माता ने कहा, थिएटर रिलीज अप्रासंगिक नहीं होगी

Spread the love

विद्या बालन-स्टारर शकुंतला देवी के निर्माता विक्रम मल्होत्रा ने इस बहुप्रतीक्षित फिल्म को ओटीटी पर रिलीज किया है, लेकिन उनका कहना है कि यह स्थिति को देखते हुए लिया गया निर्णय है। अभी फिल्मों के थिएटर में रिलीज होने का कतई यह मतलब नहीं है कि थिएटर में फिल्म देखने का अनुभव अप्रासंगिक होने जा रहा है।

Advertisement
शकुंतला देवी के निर्माता ने कहा, थिएटर रिलीज अप्रासंगिक नहीं होगी
विक्रम मल्होत्रा

मल्होत्रा ने आईएएनएस को बताया, डिजिटल प्लेटफॉर्म पर फिल्में और शो देखना कोई नई घटना नहीं है। पश्चिमी दुनिया में यह पिछले 10 वर्षों से हो रहा है। पिछले 5 वर्षों में भारत में भी इसका एक संभावित बाजार विकसित हुआ है। लेकिन स्थितियां सामान्य होते ही फिल्में फिर से थिएटर में रिलीज होंगी।

शकुंतला देवी का उदाहरण देते हुए उन्होंने समझाया, इस फिल्म को जून में रिलीज होना था, लेकिन दुनिया में जो हालात बने हैं उसमें ओटीटी फिल्म वितरण के लिए एक व्यापक मंच है। निर्माताओं के रूप में हम इसका उपयोग कर रहे हैं।

शकुंतला देवी अनु मेनन द्वारा निर्देशित है। 31 जुलाई को एमेजॉन प्राइम पर रिलीज हुई इस फिल्म में जिशु सेनगुप्ता, सान्या मल्होत्रा और अमित साध भी हैं।

ओटीटी पर अब तक रिलीज हुईं फिल्में छोटे और मध्यम बजट तक की हैं। लेकिन क्या बड़े बजट की फिल्मों को डिजिटल प्लेटफॉर्म पर बॉक्स-ऑफिस जैसे कलेक्शन की गारंटी मिल सकती है? इसके जबाव में मल्होत्रा ने कहा, इन दोनों प्लेटफार्म के अलग-अलग रेवेन्यू मॉडल हैं, इनके स्ट्रक्चर अलग हैं। जब आप थिएटर में फिल्म रिलीज करते हैं, तो आपका भाग्य शून्य से सौ के बीच तक झूलता रहता है। यहां जोखिम और कमाई का अनुपात बहुत अधिक है। वहीं स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर फिल्म के रिलीज होने के बाद फिल्म के लिए लाभ कम है, क्योंकि इसका व्यवसाय मॉडल अलग है। इसलिए मैं इनकी तुलना करने से बचता हूं।

Advertisement

Leave a Comment